ताजा समाचार के लिए हामारा पेज़ लाइक करे https://www.facebook.com/badhta.karwan123
गूगल की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक आप के पसंदीदा वेब न्यूज़ पोर्टल www.badhtakarwan.com को लोग विदेशो में भी पढ़ते है।
ज्यादा जानकारी के लिए सम्पर्क करे 07805818604 पर वेब न्यूज़ www.badhtakarwan.com
बढ़ता कारवाँ न्यूज अपने मोबाईल पे पाने के लिए अप्पने मोबाईल पे हमारा एप्स लोड करे badhtakarwan निशुल्क
वत्स साप पे न्यूज पाने के लिए कृपया 9826524895 नम्बर पे मैसेज करे

छात्राओं की टेबल और कागज फेंके, अभद्रता करते हुए उन्हें जेयू परिसर से दिया भगा

ग्वालियर-जीवाजी यूनिवर्सिटी में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने खुलकर दादागिरी दिखाई। भारत माता की जय न बोलने पर परिषद के कार्यकर्ताओं ने आल इंडिया डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन (एआईडीएसओ) की छात्राओं छात्राओं को राष्ट्र विरोधी कहते हुए जमकर उत्पात मचाया।
छात्राओं की टेबल और कागज फेंके, अभद्रता करते हुए उन्हें जेयू परिसर से भगा दिया। छात्राओं ने विरोध किया, लेकिन परिषद के कार्यकर्ताओं की संख्या ज्यादा होने से वे परिसर छोड़ने को विवश हो गईं। इस मामले में किसी भी संगठन ने पुलिस अथवा जेयू प्रशासन से कोई शिकायत नहीं की है।
संगठन की जानकारी के लिए लगाया था स्टॉल
शिक्षा के व्यवसायीकरण, निजीकरण व छात्र समस्याओं को लेकर डीएसओ ने जेयू प्रशासनिक भवन के नजदीक स्टॉल लगाया था। टेबल पर संगठन की जानकारी के पर्चे रखे थे। वे छात्रों को संगठन की गतिविधियों की जानकारी दे रही थीं। संगठन में ज्यादातर छात्राएं थीं। इसी बीच विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता वहां पहुंचे और स्टॉल लगाने की अनुमति के बारे में पूछा। छात्राओं ने कहा कि आपको क्यों बताएं। इस पर कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए और बोले की तुम भारत माता की जय के नारे लगाओ। छात्राओं ने कहा कि क्या तुम्हारे कहने पर नारे लगाएं। इस पर विवाद हो गया। जेयू के सुरक्षा गार्डों की मौजूदगी में आधा घंटा हंगामा होता रहा, लेकिन उन्होंने सख्ती नहीं बरती।
राष्ट्र विरोधी कहते हुए टेबल, कागज फेंके
परिषद के कार्यकर्ता इतने आक्रोशित हो गए कि उन्होंने डीएसओ की कार्यकर्ताओं को राष्ट्र विरोधी, देशद्रोही कहते हुए उनकी टेबल और कागज फेंक दिए। इससे संगठन की मिताली, संध्या, पूजा आदि कार्यकर्ता भी भड़क गईं। उन्होंने परिषद के कार्यकर्ता को खरी-खोटी सुनाई। एबीवीपी के अमन राय, अभिषेक शुक्ला, अनमोल, शफीक अहमद ने उन्हें घेर लिया और परिसर से जाने को कहा। आखिर छात्राओं को वहां से जाना पड़ा।
हम शिक्षा के निजीकरण, व्यवसायीकरण के विरोध में सालों से आंदोलन चला रहे हैं। जेयू में संगठन की गतिविधियों की जानकारी देने के लिए स्टॉल लगाया था, लेकिन परिषद के कार्यकर्ताओं ने निंदनीय घटना को अंजाम दिया। हम इससे डरने वाले नहीं हैं। सचिन जैन, प्रदेश सचिव, डीएसओ
राष्ट्र विरोधी संगठन
डीएसओ राष्ट्र विरोधी संगठन है। उसकी गतिविधियां ठीक नहीं है। उन्होंने जेयू में गलत तरीके से स्टॉल लगाया था। हमने इसका विरोध किया है। कोई अभद्रता नहीं की। -शफीक अहमद, जिला सहमंत्री, एबीवीपी
पहले शिकायत तो हो
दो संगठनों के बीच विवाद की सूचना मिलने पर सुरक्षा गार्डों को भेज दिया था। हमारे लिए सभी संगठन समान हैं। किसी भी संगठन ने शिकायत नहीं की है। शिकायत मिलने पर जांच कराई जाएगी और जो दोषी होगा उस पर कार्रवाई करेंगे। हम किसी भी संगठन को संरक्षण नहीं दे रहे हैं। -प्रो. आनंद मिश्रा, रजिस्ट्रार
Updated: February 17, 2017 — 8:35 am

The Author

ग्वालियर ब्यूरो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बढ़ता कारवाँ © 2014 Designed & Developed by Teja Media